आप ब्राउज़र के पुराने संस्करण का उपयोग कर रहे हैं. MSN का सर्वश्रेष्ठ अनुभव प्राप्त करने के लिए, कृपया किसी समर्थित संस्करण का उपयोग करें.

परिवार में सुख-समृद्धि और खुशहाली लाता है यह व्रत

हिन्दुस्तान लोगो हिन्दुस्तान 28-08-2018
krishna © livehindustan.com krishna

भारत में मुख्य रूप से चार तीज मनाई जाती हैं। अखा तीज, हरियाली तीज, हरतालिका तीज और कजली तीज। भादो माह में कृष्ण पक्ष में आने वाली तीज को कजरी तीज कहा जाता है। कजरी तीज को कजली तीज या बड़ी तीज नाम से भी जाना जाता है। कजरी तीज का व्रत रखने से परिवार में सुख-समृद्धि और खुशहाली आती है। इस त्योहार के बारे में मान्यता है कि कजरी तीज के दिन सुहागिन महिलाओं को भगवान शिव और मां पार्वती की पूजा अर्चना करनी चाहिए। इस दिन सुहागिन स्त्रियां व्रत रखती हैं और पति की लंबी आयु के लिए पूजा करती हैं।

यह व्रत तब तक पूरा नहीं माना जाता है, जब तक व्रत कथा ना पढ़ी जाए। वैवाहिक जीवन में सुख समृद्धि के लिए सुहागन महिलाएं यह व्रत करती हैं और लड़कियां अच्छे वर की कामना के लिए यह व्रत करती हैं। इस व्रत में सुहागन महिलाएं और लड़कियां निर्जला व्रत रखती हैं। गर्भवती महिलाएं फलाहार कर सकती हैं। इस दिन गेहूं, चना और जौ के सत्तू के लड्डू बनाने की परंपरा है। महिलाएं रात्रि में चंद्रमा को अर्घ्य देकर उपवास खोलती हैं। कजरी तीन के दिन शाम के समय भगवान शिव और माता पार्वती की पूजा अर्चना करनी चाहिए। मान्यता है कि इस व्रत में लाल वस्त्र दान करने से भगवान शिव एवं मां पार्वती प्रसन्न होते हैं।

इस आलेख में दी गई जानकारियां धार्मिक आस्थाओं और लौकिक मान्यताओं पर आधारित हैं, जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया गया है।

Liveहिन्दुस्तान.comकी अन्य खबरें

हिन्दुस्तान
हिन्दुस्तान
image beaconimage beaconimage beacon