आप ब्राउज़र के पुराने संस्करण का उपयोग कर रहे हैं. MSN का सर्वश्रेष्ठ अनुभव प्राप्त करने के लिए, कृपया किसी समर्थित संस्करण का उपयोग करें.

4-1 से सीरीज गंवाने का यह मतलब नहीं कि हम एकतरफा हार गए, हम निडर होकर खेले: विराट

दैनिक भास्कर लोगो दैनिक भास्कर 12-09-2018 DainikBhaskar.com
Virat Kohli wearing a hat and smiling at the camera © DainikBhaskar.com

लंदन. इंग्लैंड ने भारत के खिलाफ पांच टेस्ट की सीरीज 4-1 से जीत ली। हार पर कप्तान विराट कोहली ने कहा, 4-1 का आंकड़ा उनकी टीम के प्रदर्शन की सही तस्वीर पेश नहीं करता। कोहली के मुताबिक, लार्ड्स टेस्ट को छोड़ दें तो भारत किसी भी टेस्ट में एकतरफा नहीं हारा। पूरी सीरीज में हमारे खिलाड़ी निडर होकर खेले। हमारी टीम में योग्यता है। बस हमें केवल अनुभव चाहिए।

टेस्ट क्रिकेट के लिए बेहतर रही यह सीरीज : पोस्ट मैच प्रेजेंटेशन सेरेमनी के दौरान कोहली ने कहा, "हमने जिस तरह की क्रिकेट खेली वह स्कोर बोर्ड पर नहीं दिखा। हालांकि, दोनों टीमें जानती हैं कि यह एक कठिन सीरीज थी। टेस्ट क्रिकेट के यह बहुत अच्छी सीरीज रही।" सीरीज से होने वाले नफे-नुकसान को लेकर कोहली बोले कि प्रशंसक अब मैदान पर आएंगे। वे दोनों टीमों को जीत के लिए खेलते हुए देखेंगे। इंग्लिश टीम भी प्रतिस्पर्धी क्रिकेट खेलने के लिए जानी जाती है। 

(पंत की सेंचुरी के बाद विराट का ऐसा था रिएक्शन, वीडियो Dailymotion ने प्रोवाइड किया है)

वीडियो पुन: चलाएँ

केवल स्वाभाविक खेल दिखाने की सोची थी : आखिरी दिन क्या भारत ने मैच जीतने की सोची थी, के सवाल पर कोहली ने कहा, "हमारा ऐसा कोई विचार नहीं था। हमने सिर्फ अपना स्वाभाविक खेल दिखाने की योजना बनाई थी।"उन्होंने कहा, "हमें मालूम है कि इंग्लैंड ड्रॉ के लिए नहीं खेलता। इंग्लैंड की टीम जीत के जीत के इरादे के साथ ही मैदान पर उतरती। ऐसे में आपको इस तरह की सीरीज में ड्रॉ देखने को नहीं मिलते।"

राहुल और ऋषभ भारतीय टीम के भविष्य : कोहली ने केएल राहुल और ऋषभ पंत की तारीफ की। उन्होंने कहा, "इन दोनों खिलाड़ियों का प्रदर्शन भारतीय टीम का भविष्य बताता है। मैंने दोनों के प्रदर्शन से बहुत खुश हूं।" कोहली के मुताबिक, "पंत ने अधिक साहस और प्रतिभा का प्रदर्शन किया। जब आप ऐसी परिस्थितियों में होते हैं तो आप परिणाम के बारे में नहीं सोचते। लेकिन चीजें आपके अनुकूल होती जाती है।"

दैनिक भास्कर ऐप के साथ हमेशा अपडेट रहें। हिंदी में ताजा समाचार पढ़ने के लिए ऐप डाउनलोड करें

दैनिक भास्कर हिंदी पर और पढ़ें

दैनिक भास्कर
दैनिक भास्कर
image beaconimage beaconimage beacon